Hindi Story प्रेरणादायक हिंदी कहानी हिंदी कहानियाँ हिंदी कहानी

भूतिया दासी – हिंदी कहानी | Bhootiya Maid – Hindi Story

कहानी: भूतिया दासी 

सोनडीपुर नाम का सुंदर व बड़ा गांव था | इस गांव में काम करने वाली एक चुड़ैल रहती थी इस चुड़ैल को काम करना बहुत ही पसंद था और हो चुड़ैल जिस जिस घर में काम करती उस घर में किसी किसी व्यक्ति को डराती भी थी और काम करने के साथ-साथ उसे डराने में बहुत मजा आता था और काम करने के बाद उसका लोग शुक्रिया यादा नहीं करेंगे तो वह बहुत गुस्सा हो जाती थी

उस चुडेल को सुन सकते थे केवल देख नहीं सकते थे 1 दिन की बात थी जब उस गांव के एक परिवार मै से सभी लोग काम पर चले गए जब परिवार वाले काम से घर पर आए तो उनका घर साफ और चमक रहा था

वह चुड़ैल दासी घर का सारा सामान सही जगह रखकर घर की सफाई कर कर चली गई लेकिन ऐसा हुआ कि वह लोग चुड़ैल दासी का शुक्रिया अदा करना भूल गए तब चुड़ैल दासी बोलने लगी तुम लोगों की इतनी हिम्मत तुम मेरा शुक्रिया अदा करने भूल गए अब देखो मैं अब तुम्हें कैसी सजा देती हूं बाद में हंसकर वह घर का सारा सामान तोड़कर पूरे घर को बिखेर कर बर्तन तोड़कर उनको डरा कर वह घर से चली गई

उसी गांव में रामलाल नाम का एक आलसी आदमी रहता था कोई भी काम करना उसे अच्छा नहीं लगता था वह पूरे दिन घर पर सोता रहता था। उसका घर कचरे से भरा रहता था घर में बर्तन इधर-उधर बिखरे पड़े रहते थे कपड़े कहीं पर बिखरे पड़े  रहते थे बाद में 1 दिन ऐसा हुआ कि वह चुड़ैल दासी रामलाल के घर जाती है

रामलाल की नींद खुलने से पहले वह चुड़ैल रामलाल का घर साफ करके चमका देती है जब रामलाल अपनी नींद से जागा तब बोला बाप रे बाप मैं कहां पर हूं इतना साफ मेरा घर क्या मैं यह सपना देख रहा हूं जिस किसी का यह काम है उसका बहुत-बहुत धन्यवाद रामलाल ने जब यह कहा तब चुड़ैल वहां पर आई और उसके मन में लड्डू फूटा |रामलाल ने जब उसकी प्रशंसा की उसी दिन से लेकर जब भी रामलाल घर में सफाई नहीं करता तो वह चुड़ैल आती है

और उसके घर को साफ करके चमका के चली जाती फिर रामलाल घर पर आता काम होता हुआ देखकर वह हमेशा चुड़ैल दासी का शुक्रिया अदा करता इस प्रकार रामलाल को बिना एक पैसा खर्च किए हुए उसको मुफ्त की दासी मिल गई |

Leave a Reply

Your email address will not be published.